वकील: जिसने कभी प्रधानमंत्रियों के हत्यारों की पैरवी की थी

भारतीय कानून के इतिहास को जब भी याद किया जाएगा.
तब राम जेठमलानी के नाम का जिक्र आएगा.
जाने-माने वकील राम जेठमलानी 95 साल की उम्र में आज दुनिया को अलविदा कह गए.
जेठमलानी पिछले 2 हफ्ते से गंभीर तौर पर बीमार थे.

बेहतरीन वकीलों में गिने जाने वाले जेठमलानी ने अपने जीवन में कई बड़े केस लड़े और जीते.

सुप्रीम कोर्ट के सबसे महंगे वकील रहे जेठमलानी ने कई मामलों में बिना पैसे लिए भी कई केस लड़े.

17 साल की उम्र में जेठमलानी ने लॉ की पढ़ाई पूरी कर ली थी.
18 साल की उम्र से वकालत शुरू करने वाले जेठमलानी पहली बार सबसे कम उम्र के वकील बने.

उनके वकील बनने के लिए वकील बनने की उम्र में संशोधन किया गया था.
जेठमलानी अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री और शहरी विकास मंत्री भी रहे हैं.

साल 2010 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट बार असोसिएशन का अध्यक्ष भी चुना गया था.
फिलहाल जेठमलानी आरजेडी से राज्यसभा सांसद भी थे.
वकील रहते जेठमलानी ने कई आरोपियों के लिए केस लड़ा.
उन्होंने कई ऐसे लोगों को फांसी के फंदे से बचा लिया जिन्हें आरोपी माना गया था.

आइए जानते है राम जेठमलानी के चंद केस

राजीव गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के आरोपियों के लिए पैरवी की थी.

अंडरवर्ल्ड डॉन हाजी मस्तान तक का राम जेठमलानी ने लड़ा केस.
हाजी मस्तान मुंबई अंडरवर्ल्ड का डॉन था. तस्करी के एक मामले में उसे बचाने के लिए राम जेठमलानी ने केस लड़ा था.

राम जेठमलानी ने चारा घोटाला मामले में आरोपी लालू प्रसाद यादव का केस लड़ा.
संसद पर हमले के आरोपी कश्मीरी आतंकी अफजल गुरु के फांसी की सजा के खिलाफ भी पैरवी की थी. लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली.

2013 में नाबालिग लड़की के बलात्कार के आरोपी आसाराम बापू के बचाव में भी जेठमलानी ने पैरवी की थी.

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में अमित शाह की तरफ से पैरवी किए.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से स्वर्गिय अरुण जेटली के खिलाफ मानहानि का केस भी लड़ा.

तमिलनाडु की सीएम रही स्वर्गिय जयललिता और हवाला डायरी कांड में बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी की तरफ से भी पैरवी की थी.

राम जेठमलानी ने बड़े कारोबारियों में से एक सहारा प्रमुख सुब्रतो रॉय के लिए सुप्रीम कोर्ट में पैरवी किए.

डीएमके नेता कनिमोझी के लिए 2G घोटाले में पैरवी किए.

अवैध खनन मामले में कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदुरप्पा के लिए पैरवी किए.

जेसिका लाल मर्डर केस में जेठमलानी ने आरोपी की तरफ से पैरवी की थी.
शेयर बाजार के दलाल हर्षद मेहता और केतन पारेख के बचाव में भी पैरवी की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *